प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट 2022 | PMFBY की लाभार्थी सूची/लिस्ट कैसे देखे [PMFBY List PDF]

यहाँ तक कि उनके सामनें अपने परिवार के भरण-पोषण की गंभीर समस्या उत्पान हो जाती है | किसानों की इन सभी समस्याओं को देखते हुए सरकार द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की शुरुआत की गयी है |  प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्या है ? इसके बारें में जानकारी देने के साथ ही आपको यहाँ प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट 2022 और PMFBY की लाभार्थी सूची/लिस्ट कैसे देखे, इसके बारें में बताया जा रहा है |

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट 2022

Contents

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से सम्बंधित जानकारी

देश के किसानों की आर्थिक स्थिति को सुधारनें के लिए सरकार द्वारा निरंतर प्रयास जारी है | इसके लिए सरकार द्वारा समय-समय पर विभिन्न प्रकार की योजनाओं को लांच किया जाता है | दरअसल सरकार द्वारा वर्ष 2022 तक किसान भाइयों को दोगुना करनें क लक्ष्य निर्धारित किया गया है | हम सभी लोग भली-भांति जानते है, कि फसलों के उत्पादन में किसानों को अथक परिश्रम करना पड़ता है | कभी-कभी तो उन्हें प्राकृतिक आपदाओं जैसे- ओलावृष्टि, भारी वर्षा आदि के कारणउनकी फसलें पूरी तरह से नष्ट हो जाती है | ऐसे में उन्हें काफी बड़ा नुकसान उठाना पड़ता है |

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्या है (PMFBY Scheme)

पूरी दुनिया में भारत को एक कृषि प्रधान देश के रूप में जाना जाता है और यहाँ के लोगो का मुख्य व्यवसाय कृषि है | फसलों के उत्पादन में किसान भाइयों को विभिन्न प्रकार की कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है | ऐसे कई कारण है, जिससे वह कठोर परिश्रम करनें के बावजूद भी वह फसलों का अच्छा उत्पादन नही कर पाते है | कभी-कभी किसानों को प्राकृतिक आपदा का सामना करना पड़ता हैम जिसके कारण उनकी फसलें पूरी तरह से नष्ट हो जाती है |

किसानों की इस समस्या को संज्ञान में लेते हुए भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को शुरू किया गया है | इस योजना के माध्यम से प्राकृतिक आपदा के कारण फसलों के बर्बाद होने पर उन्हें सरकार की तरफ से आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है | इस स्कीम के अंतर्गत किसानों को किसी भी प्रकार की आपदा के कारण हुए फसल के नुकसान पर बीमा प्रदान किया जाता है। इस स्कीम (PMFBY) के लिए केंद्र सरकार द्वारा 8 हजार 800 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।

मेरी पॉलिसी मेरा हाथ अभियान का शुभारम्भ (My Policy My Hand Campaign Launched)

आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को 18 फरवरी 2016 को प्रधानमंत्री जी के द्वारा शुरू की गयी थी | इस स्कीम को देश भर के किसानों तक सुनिश्चित करनें के लिए केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर जी नें ‘मेरी पॉलिसी मेरा हाथ’ नामक अभियान का शुभारम्भ किया है | इस अभियान को शुरू करनें के मुख्य उद्देश्य प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसलों का नुकसान होनें पर उन्हें वित्तीय सहायता प्रदान करना है |

फसल बीमा स्कीम के अंतर्गत फसलों को बे मौसम बारिश,आंधी,बाढ़,सूखा, आदि जैसे जोखिमों से सुरक्षा प्रदान करना है। इस योजना के माध्यम से किसानों को प्राकृतिक आपदाओं से होनें वाले नुकसान की स्थित में उन्हें किफायती दर पर बीमा प्रदान करना है।  इस स्कीम के माध्यम से अभी तक देश के लगभग 37 करोड किसानों कोइस योजना के माध्यम से वित्तीय सहायता प्रदान की जा चुकी है |

मेरी पॉलिसी मेरे हाथ अभियान के अंतर्गत वर्ष 2021-22 के तहत बीमित किसानों कोफसल बीमा योजना से सम्बंधित दस्तावेजउनके घर जाकरप्रदान किए जाएंगे। इसके अलावा किसान भाइयो को प्राकृतिक खेती (Natural farming),ड्रोन (Drone), ई सैंपल (E-Sample) जैसी लेटेस्ट टेक्नोलॉजी के बारें में बताया जायेगा | इसके साथ ही किसानों सरकारी नीतियों,भूमि रिकॉर्ड क्लेम और शिकायतों के निवारण के बारे में भी जानकारी प्रदना की जाती है । अभी तक इस स्कीम के माध्यम से किसानों के बैंक अकाउंट में 10 लाख 7000 करोड़ से अधिक की राशि वितरित की गई है।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट 2022 (PMFBY Scheme New Update)

देश के सभी किसानों को इस स्कीम का लाभ पहुंचाने के लिए सरकार द्वारा इस स्कीम के संशोधन किये गये है | अब नए नियमों के मुताबिक यदि किसी प्राकृतिक आपदा के कारण फसलो की बर्बादी होनें पर उन्हें बीमा कंपनी (Insurance company) द्वारा पहले की अपेक्षा अधिक लाभ दिया जायेगा | जैसे कि पहले गेंहू या धान आदि की कटाई के बाद मड़ाई के दौरान बारिश होने जाने या आग जानें के कारण उनकी फसलें नष्ट हो जाती थी | ऐसी स्थित में किसी भी अकेले किसान को फसल बीमा का लाभ नही मिलता था, क्योंकि यह लाभ सामूहिक रूप से दिया जाता था |  यहाँ तक कि योजना के अंतर्गत कुछ ऐसे किसानों को लाभ मिल जाता था, जिनका नुकसान नही होता था | जबकि नुकसान उठानें वाले किसान इस लाभ से वंचित रह जाते थे |

फसल बीमा योजना के नियमों में बदलाव के बाद नई व्यवस्था के तहत अब फसलों के बर्बाद होनें पर अलग-अलग किसानों को नुकसान का लाभ प्रदान किया जाएगा। किसान भाइयों को यह लाभ प्राप्त करनें के लिए उन्हें अपने सभी दस्तावेजों के साथ बैंक में संपर्क करना होगा | इसके अलावा उन्हें गेंहू या धान प्रति हेक्टेयर की निर्धारित राशि का डेढ़ से दो फीसदी प्रीमियम जमा करना होगा | इसके बाद ही उन्हें इस स्कीम का लाभ प्रदान किया जायेगा |

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनाप्रीमियम राशि (PMFBY Premium Amount)

फसल का नामप्रीमियम की राशि
गेहूं (Wheat)409.50 रुपए प्रति एकड़
धान (Rice)713.99 रुपए प्रति एकड़
बाजरा (Millet)335.99 रुपए प्रति एकड़
कपास (Cotton)1732.50 रुपए प्रति एकड़
मक्का (Maize)356.99 रुपए प्रति एकड़
जौ (Barley)267.75 रुपए प्रति एकड़
सरसो (Mustard)275.63 रुपए प्रति एकड़
चना (Gram)204.75 रुपए प्रति एकड़
सूरजमुखी (Sunflower)267.75 रुपए प्रति एकड़

पीएमएफबीवाई के अंतर्गत प्रदान की जाने वाली धनराशि

फसल का नामबीमित राशि
गेहूं (Wheat)27300.12 रुपया प्रति एकड़
धान (Rice)35699.78 रुपया प्रति एकड़
बाजरा (Millet)16799.33 रुपया प्रति एकड़
कपास (Cotton)34650.02 रुपया प्रति एकड़
मक्का (Maize)17849.89 रुपया प्रति एकड़
जौ (Barley)17849.89 रुपया प्रति एकड़
सरसो (Mustard)18375.17 रुपया प्रति एकड़
चना (Gram)13650.06 रुपया प्रति एकड़
सूरजमुखी (Sunflower)17849.89 रुपया प्रति एकड़

पीएम किसान सम्मान निधि लिस्ट

पीएमएफबीवाई के अंतर्गत किसानों की कवरेज (PMFBY Coverage)

  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत देश के सभी किसान भाई इस स्कीम का लाभ प्राप्त करनें हेतु पात्र है |
  • इस स्कीम का लाभ प्राप्त करनें के लिए किसान भाइयों को सभी महत्वपूर्ण डाक्यूमेंट्स को अनिवार्य रूप से जमा करना होगा |
  • ठेके और बटाई पर फसलों का उत्पादन करनें वाले किसानों को अपना आधार नंबर और बोई गई फसल से सम्बंधित जानकारी के साथ ही उन्हें घोषणा पत्र जमा करना होगा।

फसल बीमा स्कीम से निकासी करने हेतु जानकारी

सरकार द्वारा शुरू की गयी यह स्कीम पूरे देश के किसानों के लिए स्वैच्छिक (Voluntary) है। यदि कोई लोन लेने वाला किसान भाई इस स्कीम का लाभ नही प्राप्त करना चाहत है, तो उन्हें इसकी जानकारी बैंक में लिखित रूप से देनी होगी | इसके बाद उन्हें इस स्कीम से बाहर कर दिया जाएगा। इसके अलावा यदि किसी किसान भाई द्वारा निर्धारित समय में इसकी जानकारी बैंक को नही देने पर इस स्कीम के तहत उनका रजिस्ट्रेशन कर दिया जायेगा और उनके बैंक खाते से फसल बीमा प्रीमियम की धनराशि काट ली जाएगी | इसके अलावा ऐसे किसान भाई जो इस स्कीम का लाभ प्राप्त करना चाहते है, वह ग्राहक सेवा केंद्र-सीएससी (CSC) या कंपनी के प्रतिनिधि के माध्यम से अपना आवेदन कर सकते है | 

यदि किसी भी किसान भाई द्वारा पहले से निर्धारित फसल के स्थान पर किसी अन्य फसल का उताप्दन करना चाहते है, तो इससे सम्बंधित जानकारी उन्हें निर्धारित समय से पहले बैंक में देनी होगी | इसके साथ ही यदि आप इस स्कीम से सम्बंधित अन्य किसी प्रकार की जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो आप किसान कल्याण विभाग (Farmers Welfare Department) द्वारा जारी किये गये टोल फ्री नंबर (Toll Free Number) 1800 180 2117 पर संपर्क कर सकते है | 

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना बजट (PMFBY Budget)

प्राकृतिक आपदाओं के कारण ख़राब होनें वाली फसलों के नुकसान की भरपाई के लिए सरकार द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना आरंभ की गई थी। इस स्कीम के तहत फसलों की बुवाई से लेकर उनकी कटाई के बाद तक का समय कवर किया जाता है | इस स्कीम के तहत फसलों की बुवाई के समय और इसके दौरान मौसम या प्राकृतिक आपदाओं से होने वाली हानि को भी कवर किया जाता है | प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को जनवरी 2016 में लांच किया गया था | इस कसीम के लिए वित्त वर्ष वर्ष 2021-22 के लिए सरकार द्वारा 16 हजार करोड़ रुपए का बजट तय किया गया है | आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि यह बजट पिछले वर्ष के बजट की अपेक्षा 305 करोड रुपए अधिक है |

सरकार द्वारा वर्ष 2016 में आरम्भ की गयी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना विश्व स्तर पर भागीदारी के मामले में सबसे बड़ी कृषि बीमा स्कीम है | इस स्कीम के अंतर्गत प्रतिवर्ष लगभग 5 से 6 करोड़ से अधिक किसान आवेदन करते है | पिछले पांच वर्षों के कार्यान्वयन को देखते हुए सरकार ने इस स्कीम को रीलॉन्च करने का निर्णय लिया था। फसल बीमा योजना को रीलॉन्च करनें के पश्चात इसके नियमों में विभिन्न प्रकार के नए बदलाव किये गये है |

इस कसीम के तहत प्राकृतिक आपदाओं से फसलों के नुकसान होनें पर इसकी रिपोर्ट करना बेहद सरल है | किसान भाई नुकसान की रिपोर्ट या सूचना 72 घंटे के अन्दर अपने नजदीकी ग्राहक सेवा केंद्र या निकटतम कृषि अधिकारी के माध्यम से कर सकते है | फसल के नुकसान की भरपाई या दावे की धनराशि किसान के बैंक अकाउंट में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर-डीबीटी (DBT) के माध्यम से पहुंचाई जाएगी।

वाइल्ड लाइफ डैमेज कवर (PMFBY Wild Life Damage Cover)

इस स्कीम के अंतर्गत अभी तक सिर्फ प्राकृतिक आपदाओं से फसलों के नुकसान पर इंश्योरेंस कवर दिया जाता है| अब सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत वाइल्ड लाइफ डैमेज (Wild Life Damage) जंगली या आवारा जानवरों से होनें वाले फसलों के नुकसान को भी कवर किया जायेगा | इसका सीधा अर्थ है, कि किसानों की फसलों को जानवरों के कारण किसी भी तरह की हानि होती है, तो फसल पर होनें वाले नुकसान को इस स्कीम के अंतर्गत कवर किया जायेगा |

किसानों को यह सुविधा ऐडऑन कवरेज के रूप में प्रदान की जाएगी और यह सुविधा ऑप्शनल अर्थात वैकल्पिक होगी।इस स्कीम के अंतर्गत यदि किसान भाई अपनी फसलों के लिए वाइल्ड लाइफ कवर लेना चाहते है, तो उन्हें इसके लिए एक निर्धारित प्रीमियम का भुगतान करना होगा | हालाँकि राज्य सरकार द्वारा वाइल्ड लाइफ कवर प्रदान करनें के लिए अतिरिक्त सब्सिडी देने पर विचार रही है|

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से लाभ(PMFBY Scheme Benefit)

  • इस स्कीम के माध्यम से प्राकृतिक आपदाओं से किसानों की फसलों को होनें वाले नुकसान की भरपाई की जाएगी |
  • स्कीम के तहत पंजीकरण कराने के पश्चात यदि किसी किसान की फसलों को प्राकृतिक आपदा के कारण नष्ट होनें पर उन्हें इस स्कीम का लाभ प्रदान किया जायेगा |
  • स्कीम की पॉलिसी के अनुसार किसान भाइयों को रवि की फसल के लिए 1.5 प्रतिशत और खरीफ की फसल के लिए 2 प्रतिशत का भुगतान किया जाता है |

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना हेतु पात्रता (PMFBY Eligibility)

  • देश में रहनें वाले सभी किसान इस स्कीम के लिए पात्र है |
  • इस स्कीम के अंतर्गत आप अपनी स्वयं की भूमि के अलावा उधार या बटाई ली गयी जमीन पर खेती का भी बीमा करवा सकते है |
  • इस स्कीम के अंतर्गत सिर्फ उन्ही किसानों को पात्र माना जायेगा, जो पहले किसी बीमा स्कीम से लाभ नही प्राप्त कर रहे है |

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना हेतु डाक्यूमेंट्स (PMFBY Documents)

  • आधार कार्ड (Aadhar Card)
  • राशन कार्ड (Ration Card)
  • बैंक अकाउंट विवरण (Bank Account Details)
  • एड्रेस प्रूफ (ड्राइविंग लाइसेंस,पासपोर्ट, वोटर आईडी कार्ड )
  • खेत का खाता नंबर /खसरा नंबर के पेपर |
  • आवेदक का फोटो |
  • किसान द्वारा फसल की वुआई करनें की तारीख |
  • यदि खेत किराये या बटाई पर लिया गया है, तो खेत मालिक के साथ इकरार की फोटो कॉपी |

PMFBY की लाभार्थी सूची/लिस्ट कैसे देखे [PMFBY List PDF]

  • पीएम फसल बीमा योजना लाभार्थी सूची देखने के लिए आपको सबसे पहले इसकी ऑफिशियल वेबसाइट https://pmfby.gov.in/पर जाना होगा |
  • अब आपके सामनें होम पेज ओपन होगा, यहाँ आपको लाभार्थी सूची (Beneficiary list) का लिंक दिखाई देगा, आपको इस पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा, यहाँ आपको अपने राज्य अर्थात स्टेट को सेलेक्ट करना होगा ।
  • इसके बाद अब आपको अपने डिस्ट्रिक अर्थात जिले को सेलेक्ट करना होगा।
  • अब आपको अपने ब्लॉक को सेलेक्ट करना होगा।
  • ब्लॉक को सेलेक्ट कटे ही आपके सामने फसल बीमा योजना लाभार्थी सूची खुलकर आ जाएगी। इस लिस्ट में आप अपना नाम देख सकते है |

UP Gehu Kharid Registration Online

Leave a Comment