रोटावेटर (Rotavator) क्या होता है ? रोटावेटर की कीमत कितनी है – सब्सिडी ऑनलाइन फॉर्म

सरकार रोटावेटर खरीदने पर सब्सिडी भी प्रदान करती है, जिससे जो किसान रोटावेटर खरीदने में सक्षम नहीं है, वो भी सब्सिडी की सहायता से रोटावेटर खरीद सकते है | इसके लिए उन्हें आवेदन करना होता है, जिसकी जानकारी बहुत से किसान भाइयो को नहीं होती है | इस लेख में आपको रोटावेटर (Rotavator) क्या होता है तथा रोटावेटर की कीमत कितनी है – सब्सिडी ऑनलाइन फॉर्म की जानकारी दी जा रही है |

रोटावेटर सब्सिडी

रोटावेटर (Rotavator) से सम्बंधित जानकारी

रोटावेटर किसानो के लिए एक महत्वपूर्ण उपकरण बन गया है | ट्रेक्टर के साथ इस्तेमाल की जाने वाली इस मशीन को खेत की भूमि को भुरभुरा करने के लिए करते है | इसलिए विभिन्न प्रकार की फसल को खेत में लगाने से पहले रोटावेटर को चलाना होता है | इसके अलावा खेत में गन्नागेहूमक्का और खरपतवार को नष्ट करने के लिए भी रोटावेटर का उपयोग करते है | आज कल किसान भाई फसल उगाने से पहले खेत में रोटावेटर चलवाना नहीं भूलते है, ताकि उनकी फसल अच्छी और उपजाऊ हो सके | इसके लिए ज्यादातर किसान भाई रोटावेटर खरीदना पसंद करते है |

किसान ट्रैक्टर योजना

रोटावेटर (Rotavator) क्या होता है (Rotavator)

आज के समय में किसान भाई खेती करने के लिए आधुनिक तरीका अपना रहे है | जिसके लिए वह नए – नए उपकरणों का इस्तेमाल भी करते है | ऐसा ही एक उपकरण रोटावेटर है, जिसे खेत की मिट्टी को भुरभुरा बनाने के लिए इस्तेमाल में लाते है | रोटावेटर की सहायता से खेत से जुड़े कई कार्यो को पूर्ण किया जाता है | इसका इस्तेमाल बीजो की बुवाई करने के अलावा मक्का, गन्ना, गेहूं के अवशेषों को हटाने तथा मिश्रण तैयार करने के लिए करते है | रोटावेटर के इस्तेमाल में भूमि के स्वास्थ में सुधार आता है, तथा समय, धन, लागत और ऊर्जा की बचत होती है | इसकी ब्लेडों को खास तरह से डिजाइन कर तैयार किया गया है, जो इसे मजबूती प्रदान करती है | वर्तमान समय में कई कंपनियां अलग-अलग तरह की रोटावेटर मशीनों का निर्माण कर रही है, जो किसानो के लिए खेती के कार्य को आसान कर रही है |

रोटावेटर के प्रकार (Rotavators Types)

अभी तक केवल दो तरह के रोटावेटर प्रचलन में है, जिसमे पहला मास्टर रोटावेटर है, और दूसरा सॉयल मास्टर रोटावेटर है, इन दोनों ही रोटावेटर को अलग-अलग तरह के कार्यो में विशेष रूप से इस्तेमाल किया जाता है, जो इस प्रकार है:-

सायल मास्टर रोटावेटर (Soyal Master Rotavater)

इस तरह के रोटावेटर का इस्तेमाल किसी भी तरह की भूमि को भुरभुरा करने के लिए किया जाता है | सायल रोटावेटर को कठोर और मुलायम दोनों तरह की मिट्टियो में इस्तेमाल के लिए तैयार किया गया है | इसका डिज़ाइन अधिक मजबूत होता है, जिस वजह से यह कम कम्पन्न करता है, यही वजह है, कि यह ट्रेक्टर पर भर कलम पड़ता है | यह एक ऐसी रोटावेटर मशीन है, जिसमे बैरिंग दोनों तरफ होती है | जिस वजह से यह सूखी और गीली दोनों तरह की मिट्टी पर कार्य कर अच्छे परिणाम देता है | इसकी क्वालिटी अच्छी होने के कारण इसके रख रखाव पर खर्च भी कम आता है | रोटावेटर में लगा बॉक्स कवर खेत में कार्य करने के दौरान गेयर बॉक्स को पत्थर व् अन्य बाहरी चीजों से बचाता है | इसके अलावा साइड स्किड असेंबली से गहरी जुताई करते समय 4 से 8 इंच का फेर बदल का सकते है |

टिलमेट रोटावेटर (Till Mate Rotavator)

टिलमेट रोटावेटर को खास तरह से डिज़ाइन कर तैयार किया गया है | इसमें लगी ब्लेड बोरान स्टील की होती है, जिसमे एक गेयर ड्राइव भी होता है | यही कारण है, कि यह अधिक समय तक चलता रहता है | रोटावेटर में लगे ट्रेनिंग बोर्ड को एडजस्ट करने के लिए आटोमेटिक स्प्रिंग लगा हुआ होता है | इसे भी गीली और सूखी दोनों तरह की भूमि में चला सकते है |

रोटावेटर की उपलब्धता (Rotavator Availability)

यदि आप मार्केट में रोटावेटर लेने जाते है, तो आपको कई तरह से रोटावेटर मिल जायेंगे | सामान्य तौर पर कंपनियां 6 से 8 फ़ीट के रोटावेटर तैयार करती है | 6 फ़ीट वाले रोटावेटर में 42 से 48 ब्लेड लगाई जाती है, तथा 7 फ़ीट के रोटावेटर में 48 से 54 ब्लेड और 8 फ़ीट वाले रोटावेटर को 54 से 60 ब्लेड लगाकर तैयार किया जाता है |

नानाजी देशमुख कृषि संजीवनी योजना

रोटावेटर की कीमत कितनी है (Rotavator Cost)

बाजार में 6 फ़ीट के रोटावेटर की कीमत 88 हज़ार रूपए तक है, तो वही 7 फ़ीट वाले रोटावेटर को लेने के लिए 92 हज़ार रूपए खर्च करने पड़ेंगे | इसके अलावा यदि आप 8 फ़ीट चौड़े रोटावेटर को लेते है, तो आपको 95 हज़ार रूपए खर्च करने होते है | इसके अतिरिक्त विभिन्न राज्यों में सरकार द्वारा मिलने वाली कृषि यंत्रो पर सब्सिडी का लाभ भी किसान भाई ले सकते है | किसान कृषि यंत्रो और मशीनों पर न्यूनतम 40% और अधिकतम 50% तक सब्सिडी का लाभ ले सकते है |

रोटावेटर पर सब्सिडी (Rotavator Subsidy)

यदि कोई किसान किसी तरह का नया कृषि यंत्र या मशीन खरीदना चाहता है, तो सबसे पहले उसे यह सुनिश्चित कर लेना चाहिए, कि वह किस कंपनी से यंत्र खरीदना चाहता है | इसके बाद किसान को उस कृषि यंत्र पर कितना अनुदान मिलेगा की जानकारी प्राप्त करने के लिए जिले या ब्लाकस्तर पर मौजूद कृषि कार्यालय पर संपर्क कर अनुदान की प्रक्रिया को समझ ले | इसके अतिरिक्त आप जिस कंपनी से कृषि यंत्र खरीद रहे है, उस कंपनी के सौदागर से संपर्क करके भी सब्सिडी की जानकारी प्राप्त कर सकते है |

रोटावेटर का उपयोग (Rotavator Uses)

यह एक तरह का कृषि यंत्र है, जिसे ट्रेक्टर के साथ उपयोग में लाया जाता है | इसे खेत की मिट्टी को ठीक तरह से तैयार करने के लिए इस्तेमाल करते है | यह कृषि यंत्र खेत को बुवाई के लिए कम समय में तैयार कर देता है, तथा खेत में मौजूद पुरानी फसल के अवशेषो को निकालने के लिए भी रोटावेटर का इस्तेमाल करते है | इसके अलावा खेत में की गयी बीजो की बुवाई के पश्चात् उवर्रक और बीज को मिलाने का कार्य भी रोटावेटर करता है | इसकी सहायता से हम 125 मिमी से 1500 मिमी तक गहरी भूमि की जुताई कर सकते है | इसकी एक खास बात यह है, कि इससे जुताई किए हुए खेत में पाटा लगाने की जरूरत नहीं होती है | इस यंत्र से चिकनी मिट्टी, दोमट मिट्टी, बलुई मिट्टी, चिकनी दोमट मिट्टी या किसी भी तरह की मिट्टी की जुताई कर सकते है |

रोटावेटर सब्सिडी के लिए ऑनलाइन फॉर्म भरे (Rotavator Subsidy Form Online Fill)

  • यदि आप रोटावेटर ख़रीदे हेतु अनुदान प्राप्त करने के लिए आवेदन करना चाहते है, तो उसके लिए सबसे पहले आप पारदर्शी किसान सेवा योजना पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट upagriculture.com को विजिट करे |
  • इसके बाद आप होम पेज में यंत्र/खेत तालाब पर टोकन वाले विकल्प पर जाए |
  • यहाँ पर आप टोकन जनरेट करे |
  • आपके सामने कृषि यन्त्र हेतु टोकन का फॉर्म खुलकर आ जायेगा |
  • इस फॉर्म में आप जरूरी जानकारियों को भरकर खोजे के लिंक पर क्लिक करे |
  • यहाँ पर आप रोटावेटर यंत्र को चुने और आगे बढ़े पर क्लिक करे |
  • इस पेज में आपको टोकन जनरेट करने के लिए मोबाइल नंबर दर्ज करना होता है |
  • अनुदान टोकन Processing सफल हो जाने पर किसान के Registered मोबाइल नंबर पर सदेश आ जायेगा |
  • सदेश प्राप्त हो जाने पर आवेदक किसान द्वारा किए गए टोकन की बुकिंग स्वीकार हो जाती है |
  • इस तरह से किसान रोटावेटर पर सब्सिडी के लिए आवेदन कर सकते है |

Kisan Helpline Number

Leave a Comment