नोनी फल की खेती कैसे करे | Noni Fruit Farming in Hindi | नोनी जूस की कीमत और फायदें

वैज्ञानिको के अनुसार नोनी की फसल समुद्र तटीय इलाको जैसे :- उड़ीसा, महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश, गुजरात, कर्नाटक, अंडमान निकोबार, तमिलनाडु और मध्यप्रदेश सहित नौ राज्यों की 653 एकड़ भूमि में उगाई जा रही है | इस लेख में आपको नोनी फल की खेती कैसे करे (Noni Fruit Farming in Hindi) तथा नोनी जूस की कीमत और फायदें के बारे में जानकारी दी जा रही है |

नोनी फल की खेती (Noni Fruit Farming) से सम्बंधित जानकारी

नोनी एक देशी फल वाली फसल है, जिसे लेड, बाली, अच और हॉंग एप्पल भी कहते है | इसका रासायनिक नाम मोरिन्डा सिट्रीफोलिया है | भारत में हज़ारो वर्षो से ही नोनी फल का उपयोग आयुर्वेदिक उपचार के लिए किया जा रहा है | इसके फल में विटामिन सी, एमिनो एसिड और पेक्टिन सहित जैसे अनेक पोषक तत्व मौजूद होते है | जो ट्यूमर और कैंसर सेल्स को नियंत्रित कर बढ़ने से रोकता है | नोनी का सेवन शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है, तथा बालो की ग्रोथ बढ़ाने में भी लाभकारी साबित होता है | एक शोध के अनुसार नोनी फल को कैंसर व लाइलाज बीमारी एड्स में भी कारगर माना जा रहा है | वर्ल्ड नोनी रिसर्च फाउंडेशन और अनेक शोध संस्थाए नोनी फल पर शोध कर नोनी में मौजूद रहस्यमयी गुणों का खुलासा भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान के एक सेमिनार में किया है | किन्तु इसके फल को खोज पाना आसान नहीं है, क्योकि नोनी को सभी जगह नहीं उगाया जा सकता है |

नोनी फल की खेती कैसे करे

चीकू की खेती कैसे करे 

नोनी फल के पोषक तत्व (Noni Fruit Nutrients)

नोनी का फल बहुत ही लाभकारी फल है, इसमें एंटी फंगल, एंटी वायरल, एंटीट्यूमर, एंटी बैक्टीरियल और अनेक विटामिन के साथ खनिज पदार्थ भी पाए जाते है | इसमें तकरीबन 150 से अधिक पोषक तत्व मौजूद होते है, जिसमे विटामिन सी, विटामिन ई, विटामिन बी2, विटामिन बी6, विटामिन B5, विटामिन B12, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, मिनरल्स, फोलिक एसिड, कैल्शियम, बीटा कैरोटीन, पोटेशियम, आइसोकोप्लेटिन, आयरन, फास्फोरस, मैग्नीशियम, स्कोपोलिटिन और एंटीऑक्सीडेंट जैसे पोषक तत्व शामिल है |

नोनी फल के फायदे (Noni Fruit Benefits)

  • त्वचा समस्या में लाभकारी :- नोनी का फल स्किन से जुड़ी बहुत सारी समस्याओ को दूर कर देता है | इसका सेवन करने से स्किन पर होने वाले कील, पिंपल, मुहासे, दाग धब्बे और झुर्रियां की समस्या दूर हो जाती है | इसका अलावा दाद और खुजली की समस्या में भी नोनी का फल लाभकारी है |
  • जोड़ों के दर्द में लाभकारी :- नोनी फल का सेवन उन लोगो के लिए भी लाभकारी है, जिन्हे जोड़ो में दर्द और कमजोर हड्डी की समस्या है | आप नोनी फल के जूस का सेवन कर इन सभी समस्याओ को दूर कर सकते है |
  • इम्यून सिस्टम को मजबूत प्रदान करे :- इसके फल का सेवन शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को शक्तिशाली बनाता है | इसमें अनेक प्रकार है, विटामिन और मिनरल्स पाए जाते है, जो शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को स्ट्रांग करता है | यह फल महिला और पुरुष दोनों ही के लिए लाभकारी है |
  • दस्त की समस्या में लाभकारी :- नोनी का फल दस्त की समस्या में रामबाण की तरह कार्य करता है | इसका फल खाने से दस्त की समस्या कुछ ही पल में ख़त्म हो जाती है, तथा कब्ज, एसिडिटी, बदहजमी और गैस की समस्या के लिए भी अधिक फायदेमंद है | इसके फल को काटकर या जूस बनाकर पी सकते है |
  • कैंसर के प्रभाव को कम करने में :- नोनी फल के जूस में एंटी ऑक्सीडेंट, एंटी कैंसर के गुण पाए जाते है,  जो हमारे शरीर में कैंसर के सेल्स को नहीं बढ़ने देता है, जिस वजह से नोनी फल कैंसर के खतरे को कम करने में बहुत ही मददग़ार साबित होता है |
  • महिलाओं में बांझपन की समस्या :- नोनी फल का सेवन करने से महिलाए बाँझपन की समस्या से छुटकारा पा सकती है | यह फल पुरुषो के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है | इसका सेवन करने से पुरुषो में शुक्राणुओं का निर्माण होता है, जिससे मर्दो में नपुंसकता की समस्या भी ख़त्म हो जाती है |
  • मधुमेह में भी फायदेमंद :- नोनी के फल में शुगर और ग्लूकोज को नियंत्रित करने वाले गुण पाए जाते है, जिससे मधुमेह कंट्रोल में रहता है | मधुमेह पीड़ित व्यक्ति को नोनी फल के जूस का सेवन दिन में कम से कम एक बार करना चाहिए |
  • पाचन दुरुस्त करे :- नोनी फल के जूस को नियमित रूप से पीने पर कब्ज की समस्या में छुटकारा मिलता है, और पाचन क्रिया से जुडी सभी समस्याए दूर हो जाती है |

खुबानी की खेती कैसे होती है

नोनी फल के बीजो का अंकुरण (Noni Fruit Seed Germination)

नोनी का फल और पौधा दोनों को ही बहुत मुश्किल से मिल पाते है | क्योकि पूरे देश में इसे बहुत ही कम उगाया जाता है | यह फसल केवल तमिलनाडु, केरल, ओडिशा और कर्नाटक राज्य के तटीय क्षेत्रों में उगाई जाती है | क्योकि उष्णकटिबंधीय तापमान में ही इसके बीजो को अंकुरण ठीक से हो पाता है | झारखण्ड के कृषि स्नातक छात्र प्रसेनजीत के अनुसार उन्होंने न सिर्फ फल उगाए बल्कि प्राकृतिक विधि का इस्तेमाल कर फल से रस भी निकाला | इसके अलावा उन्होंने में यह भी कहा कि उगाए गए फलो से बीज प्राप्त कर उन बीजो से दोबारा फसल उगने में भी वह सफल रहे |

नोनी फल का बीज (Noni Fruit Seed)

नोनी की पूर्ण जानकारी लेकर प्रसेनजित ने ओडिसा से नोनी के बीजो को ख़रीदा | उन्होंने 200 बीजो को 1000 हज़ार रूपए में ख़रीदा और कॉलेज प्रोसेसर की सहायता से इन बीजो को अंकुरित होने के लिए लगा दिया | बीज का बाहरी आवरण कठोर होने के कारन उन्हें अंकुरित होने में छह महीने का समय लग जाता है | इन 6 महीनो के लिए बीजो को उष्णकटिबंधीय परिस्थितियों में रखा जाता है, तथा बीज प्राप्त करने के पश्चात् प्रसेनजित ने एक प्रोफ़ेसर से संपर्क किया | इस प्रोफ़ेसर के माध्यम से उन्होंने जेआरयू विश्वविद्यालय में पौधो के प्रजनन की क्रिया को सीखा और बीज अंकुरण से संबंधित कुछ सुझाव भी लिए | जिसमे प्रोफ़ेसर से उन्हें यह बताया कि बीजो को दो मिनट तक केंद्रित सल्फ्यूरिक एसिड में भिगोए जिससे उनके खोल को आसानी से तोड़ा जा सके | इस दौरान उन्होंने सावधानी बरतने के लिए भी कहा क्योकि सल्फ्यूरिक एसिड में त्वचा को जलाने का गुण होता है |

चीकू की खेती कैसे करे

नोनी के पौधो से फसल (Noni Plants Harvest)

नोनी के पौधो को मिट्टी के साथ स्थानांतरित कर बगीचों में लगा दिया गया | यह मिट्टी जैविक खाद और उवर्रक से समृद्ध थी | कुछ महीने के पश्चात् सिर्फ 16 पौधे ही 3 फ़ीट तक स्वष्ट रूप से विकसित हुए | मानसून की बारिश के पश्चात् नोनी का पौधा फल से भर गया | इस तरह से पहले ही वर्ष में 45 KG की फसल प्राप्त हुई | इसका पौधा पूरे वर्ष फल और फूल देता है | इससे वह हर महीने एक पेड़ से तक़रीबन 10 फल तक काट लेते है | वर्तमान समय में फसल को व्यापारिक रूप से बेचने के लिए नहीं उगाया है, इसे अभी सिर्फ व्यक्तिगत उपयोग के लिए उगाया गया है |

नोनी जूस की कीमत (Noni Juice Price)

नोनी का जूस बहुत ही फायदेमंद होता है | आप एक दिन में 20 से 30 ML जूस की खुराक का सेवन कर सकते है, तथा इच्छानुसार खुराक की मात्रा को बढ़ाया या घटाया भी जा सकता है | कुछ प्रमुख ब्रांड है, जो  नोनी के जूस को बेचते है | नोनी जूस बेचने वाले ब्रांड इस प्रकार है:- मोदीकेयर, सिम्पली न्यूट्रा, मेडिना, कपिवा, नरिश वाइटलस | इन ब्रांड के नोनी जूस को आप ऑनलाइन स्टोर Amazon India, Medlife Offers, Pharmeasy Promo Code, Netmeds Promo Code, 1mg Offers से खरीद सकते है, जिस पर आपको नोनी जूस की कीमत भी मिल जाएगी | इसकी अनुमानित बाजारी कीमत की बात की जाए तो, 450 से 500 ML जूस का रेट 1500 रु० तक होता है |

चेरी की खेती कैसे करें

Leave a Comment